गायत्री माता आरती – Aarti Song- Gayatri Mata Aarti – Goddess Gayatri Aarti In Hindi – Gayatri Aarti Lyrics in Hindi

दोस्तों में आपके लिए आज गायत्री माता की आरती लेके आये हूँ ताकि जब भी आप माँ गायत्री के पूजा अर्चना करे आपके पास उनके आरती हो|   आप बस मेरी पोस्ट को बुकमार्क करे और जब चाहे तब मेरे पोस्ट खोले और गायत्री माता की आरती पढ़ ले|                                            

 

श्री गायत्रीजी की आरती

.

आरती श्री गायत्रीजी की।

ज्ञानदीप और श्रद्धा की बाती।

सो भक्ति ही पूर्ति करै जहं घी की॥

आरती श्री गायत्रीजी की॥

मानस की शुचि थाल के ऊपर।

देवी की ज्योत जगै, जहं नीकी॥

आरती श्री गायत्रीजी की॥

शुद्ध मनोरथ ते जहां घण्टा।

बाजैं करै आसुह ही की॥

आरती श्री गायत्रीजी की॥

जाके समक्ष हमें तिहुं लोक कै।

गद्दी मिलै सबहुं लगै फीकी॥

आरती श्री गायत्रीजी की॥

संकट आवैं न पास कबौ तिन्हें।

सम्पदा और सुख की बनै लीकी॥

आरती श्री गायत्रीजी की॥

आरती प्रेम सौ नेम सो करि।

ध्यावहिं मूरति ब्रह्म लली की॥

आरती श्री गायत्रीजी की॥

मुझे उम्मीद है की आपको गायत्री माता आरती ,Aarti Song, Gayatri Mata Aarti , Goddess Gayatri  Aarti In Hindi ,Gayatri Aarti Lyrics in Hindi ,Aarti Gayatri Ki जरुर काम आयेगी | मैं खास करके आप भक्तो के लिए माँ गायत्री आरती,Shri Gayatri Aarti,Jayati Jai Gayatri Mata,Gayatri Mata Aarti,Sri Gayatri Mata ki Aarti लेके आयी हूँ| मुझे पुरी उम्मीद है की aarti shri gayatri maa ki,gayatri aarti lyrics,aarti gayatri mata ki hindi,gayatri maa,gayatri goddess,maa gayatri,gayatri aarti,jai gayatri mata,aarti song,gayatri mata ki aarti आपके जरुर काम आयेगी|

Facebook Comments

Add Comment