ये है मोहबते – तारिख १ नवम्बर २०१७ के एपिसोड का आँखों देखा हाल – Yeh Hai Mohabbatein – 1st November 2017

एपिसोड शुरू होता है-

Yeh Hai Mohabbatein 1st November 2017

निखिल रमन से बोलता है कि क्या कर लोगे? मुझे मर डालोगे?

रमन रोमी और आदि से कहता है कि आज तुम लोगो को कोई नही रोकेगा| रोमी और आदि निखिल को मारने लगते हैं| अप्पा और मिस्टर भल्ला उन दोनों को रोकने की कोशिश करते है| आदि बोलता है कि हम इसे नही छोड़ेंगे| रमन निखिल से पूछता है क्या अभी भी तुम शादी करोगे? तभी रूही चिल्लाती हुई  आ जाती है और रमन को कहती है कि निखिल को हाथ मत लगाना| रमन उसको ऊपर जाने को कहता है पर रूही चाकू अपने कलाई पर रखती है और कहती है, मैं अपने आप को मार दूंगी| मैं निखिल से शादी करूंगी| रमन रूही को समझाने की कोशिश करता है और कहता है, निखिल तुम्हारे लिए सही नही है|

इशिता अपनी सास से पूछती है कि आप ऐसा क्यों कह रही है? सास बोलती है कि हाँ रूही विद्रोह तुम्हारी और रमन की वजह से कर रही है| अगर सिम्मी रूही की मदद कर रही  है तो तुम्हे क्यों लगता है कि वो गलत है|

सिम्मी कहती है कि सबको लगता है की इशिता सबको गलत ही मानती है| आप लोगो ने उसे अपने सर पर चडा लिया है| अब वो सभी लीडर बन गई है|

अम्मा कहती है कि इशिता ने हमेशा तुम्हारी मदद की है|

इशिता अपनी अम्मा को चुप रहने को कहती है|

पिहू और अनन्या सब देख रहे है|

मिसेस भल्ला कहती है कि सिम्मी परम से अलग रहती है, वो रूही को मदद कर रही है, रमन भी सोचता है कि सिम्मी गलत है| सिम्मी रूही की बुआ है, तुमने गलत किया इशिता|

इशिता रोने लगती है|

वहां रमन रूही को कहत है चाकू मुझे दो|  रूही कहती है कि आपका मेरे पर कोई हक़ नही है|रमन कहता है में तुमसे भीख मांगता हूँ, निखिल धोकेबाज़ है| रूही चिल्लाती है और कहती है कि  मैं निखिल से शादी करूंगी, आप हमेशा सही नही हो सकते| कोई भी मेरी ज़िन्दगी में दखल नही देगा|

आदि रूही से कहता है क्या तुम पागल हो गई हो, तुम निखिल के लिए हमसे लड़ रही हो|

रूही कहती है आप सबको को निखिल को स्वीकार करना होगा| निखिल कहता है हम आज रात और अभी शादी करेंगे|

रूही रमन को कहती है निखिल को हाथ मत लगाना और कुछ मत करना| मैं नही रुकुंगी|

वहां इशिता कहती है आज मेरी सास बात कर रहे है|

मिसेस भल्ला कहती है, हाँ, हर किसी को अपनी हद नही भूलनी चाहिए| मैंने हमेशा सिम्मी की बात नही सुनी, मैने  उसके साथ गलत किया|

इशिता कहती है, अच्छा है अपने ये कहा पर मेरे पास और वक्त और धीरज नही है, मेरी बेटी गलत कदम उठा रही है, उसको नही पता निखिल क्या कर रहा है| मैं उसकी ज़िन्दगी आग में नही झोंक सकती|

सिम्मी इशिता को रोकती है| इशिता कहती है क्या तुम पागल हो गयी हो?

पिहू कहती है मैं पापा को बुलाती हूँ और रमन को बुलाने चली जाती है| अनन्य पिहू को रोकती है|

निखिल एक कपडा जलाता है|

परम आता है| निखिल कहता है मेरे पास वक्त नही है, मैं रूही के बिना नही रह सकता| परम रामन को ये सब रोकने को कहता है|

रमन कहता है ये शादी नही होगी| रोमी कहता है हम रूही को खो देंगे|

रूही और निखिल हाथ थामे आग के चक्कर काटते है| सब चौक जाते है|

पिहू अनन्या से कहती है मुझे पापा को बुलाने दो| इशिता माँ और सिम्मी बुआ लड रहे है|

अनन्य कहती है नही, वो मेरे मम्मा को डाटँगे|

पिहू उसे हटाती है और अनन्य सीढियों से लुड़कने लगती है| उसके सिर पर चोट लग जाती है|

पिहू अनन्या के पास जाती है और आँखे खोलने को कहती है|

इशिता सिम्मी को धक्का देती है और भागती है और दरवाजा बंद कर देती है|

मिसेस भल्ला दरवाजा खोलने को कहती है|

इशिता अनन्या को देखती है और पिहू से पूछती है अनन्या को क्या हुआ|

पिहू कहती है मैं अनन्या को मार दिया| इशिता कहती है कुछ नही होगा| अनन्या अभी जिंदा है| वो पिहू को भेज देती है| इशिता पिहू से कहती है अभी वो जिंदा है, जाओ यहाँ से और ये चाबी लो|

पिहू कहती है मुझे अनन्या के साथ ही रहना है| इशिता उसको भेज देती है| वो अनन्या को चेक करती है|

पिहू घर आती है और रोने लगती है |

इशिता अनन्या को गोदी में लेके ऊपर आती है|

रूही चाकू दिखाती है और रमन को रोकती है और अग्नि के चक्कर लगाती जाती है|

इशिता खून से लथपथ अनन्य को घर लाती है|

सब चौक जाते है| सिम्मी पूछती है क्या हुआ अनन्य को? वो अनन्य को गले लगती है और रोने लगती है|

रमन लाचार महसूस करता है| तभी आलिया रमन के पास आती है और कहती है कि अनन्या को कुछ हो गया है|

रमन, परम और सभी घर की तरफ भागते है| रूही भी जाने लगती है तो निखिल उसको रोकता है| रमन एक बार रूही को मुडकर देखता है| निखिल कहता है रूही हमारे फेरे? रूही निखिल से कहती है मुझे जाना होगा और अपने परिवार के साथ घर की तरफ भागती है|

 

परम पूछता है कि अनन्या को क्या हुआ| रूही भी पूछती है अनन्या को क्या हुआ?

रमन इशिता से पूछता है ये सब कैसे हुआ?

तभी डॉक्टर आते है और अनन्या का चेकअप करते है| रमन डॉक्टर से पूछता है क्या अननया  ठीक है?

डॉक्टर कहता है, अभी वो साँस ले रही है पर सिर पर गहरी चोट लगी है, तुरंत ही हॉस्पिटल ले जाना होगा|

सिम्मी इशिता को देखती है और पूछती है कि तुमने अनन्या के साथ क्या किया? तुम उसको लेके आई …पिहू बोलती है बुआ… इशिता उसको रोकती है और कहती है सॉरी| मैं जल्दी में जा रही थी और अनन्या को गलती से धक्का लग गया|

सिम्मी कहती है तुमने अनन्या को मेरे से बदला लेने के लिए धक्का दिया होगा|

रमन सिम्मी को कहता है क्या तुम पागल हो गयी हो?

सिम्मी कहती है जिसने भी ये किया है उसको मैं जेल जरुर भेजूंगी|

सब रोने लगते है, इशिता रूही को थाम लेती है|

 

कल का होगा…

डॉक्टर अनन्य से पूछेंगे किसने तुम्हे धक्का दिया? अनन्य पिहू की तरफ इशारा करती है और इशिता पिहू के आगे आ जाती है|

डॉक्टर कहते है सॉरी…अनन्या अब इस दुनिया में नही रही…

सब चौक जाते है|

………………………………………………………………………………………………………………………..

 

आपको क्या लगता है ये इशिता का नाटक है सिम्मी को सबक सिखाने के लिए या सच में अनन्या मर जायेगी, …. क्या इशिता जेल जायेगी और फिर से रमन और इशिता अलग हो जायेंगे और फिर सीरियल कुछ साल आगे बढ जायेगा?

आपको क्या लगता है? अपने कमेंट के जरिये हमें बताये.. आप क्या सोचते है?

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *