नवरात्री मंत्र – Navratri Mantra -Devi Mantra – Mantras For Navratri

Shailputri mantra – माँ शैलपुत्री का मंत्र  – Mata Shailputri Mantra

shailputri mata

वन्दे वाञ्छितलाभाय चन्द्रार्धकृतशेखराम्।

वृषारुढां शूलधरां शैलपुत्रीं यशस्विनीम्॥

  • पूजन के लिए जरूरी सामग्री

गाय का घृत माता को  अर्पित किया जाता है|

  • शैलपुत्री मन्त्र का फल

मनुष्य निरोगी रहता है।

Brahmacharini mantra – ब्रह्मचारिणी माता का मन्त्र –  ब्रह्मचारिणी का मंत्र – Mata Brahmacharini Mantra

brahamcharini mata

दधाना करपद्माभ्यामक्षमालाकमण्डलू।

देवी प्रसीदतु मयि ब्रह्मचारिण्यनुत्तमा॥

  • पूजन के जरूरी सामग्री-

चीनी का भोग  लाया जाता है|

  • पूजा का फल –

मनुष्य को दीर्घायु का आशीर्वाद मिलता है|

ALSO READ:  9 Days Mata Mantra- Navratri mantras

ALSO READ: Navratri Wishes in Hindi: Latest Navratri Messages , Status For Whatsapp & Facebook to Wish Happy Navratri 2017 Greetings! 

ALSO READ:  Navratri Wishes In English

ALSO READ: Ambe Mata Aarti

AlSO READ: kali mata aarti

Mata Chandraghanta Mantra – माँ चंद्रघंटा का मंत्र

 

ma chandraganta

पिण्डजप्रवरारुढा चण्डकोपास्त्रकैर्युता।

प्रसादं तनुते मह्यां चन्द्रघण्टेति विश्रुता॥

  • पूजन में जरूरी सामग्री

दूध चढाया जाता है|

  • पूजा का फल-

मनुष्य सभी सांसारिक कष्टों से छुटकारा पानी में मदद मिलती है|

Mata Kushmanda Mantra – माँ कूष्मांडा का मंत्र – देवी कूष्मांडा मंत्र

kushmanda mata

सुरासम्पूर्णकलशं रुधिराप्लुतमेव च

 

दधाना हस्तपद्माभ्यां कूष्माण्डा शुभदास्तु मे॥

  • पूजन में जरूरी सामग्री-

मालपुए का भोग लगाया जाता है|

  • पूजा का फल

आपके सभी विघ्न और व्याधियां दूर हो जाती है। सुख और समृद्धि से आपका संपर्क होगा|

 

माँ स्कंदमाता का मंत्र – Mata Skandmata Mantra

skandmata

सिंहासनगता नित्यं पद्माश्रितकरद्वया।

शुभदास्तु सदा देवी स्कन्दमाता यशस्विनी॥

एक और  स्कंदमाता मंत्र

 

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ स्कन्दमाता रूपेण संस्थिता।

नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।

  • पूजन के लिए जरूरी सामग्री

केले का भोग अर्पित किया जाता है |

  • स्कंदमाता मन्त्र का फल –

इस मन्त्र के उच्चारण से बुद्धि का विकास होता है।

Devi Katyayani Mantra- katyayani mantra – कात्यायनी मन्त्र –  देवी कात्यायनी का मंत्र

 Maa-Katyayani

चंद्र हासोज्ज वलकरा शार्दू लवर वाहना|

कात्यायनी शुभं दद्या देवी दानव घातिनि||

  • पूजा के जरूरी साम्रगी-

इस दिन शहद यानि मधु का बोग लगता है|

  • पूजा का फल –

इस मंत्र से सुन्दरता सुन्दरता पाते हैं और यह मन्त्र शिक्षा प्राप्ति के लिए प्रयास करने वालो को यह  मन्त्र का उचारण करना चाहिए|

 

Mata Kaalratri Mantra– माँ कालरात्रि का मंत्र

kalratri mata

एकवेणी जपाकर्णपूरा नग्ना खरास्थिता, लम्बोष्टी कर्णिकाकर्णी तैलाभ्यक्तशरीरिणी।
वामपादोल्लसल्लोहलताकण्टकभूषणा, वर्धनमूर्धध्वजा कृष्णा कालरात्रिर्भयङ्करी॥

  • पूजन में जरूरी सामग्री-

गुड़ का भोग लगाया जाता है|

  • पूजा का फल-

इस मंत्र से मनुष्य शोकमुक्त होता है और दुष्टों का नाश होता है|

 

Maa Mahagauri Mantra – माँ महागौरी का मंत्र

mahagauri mata

 

श्वेते वृषे समारुढा श्वेताम्बरधरा शुचिः।

महागौरी शुभं दघान्महादेवप्रमोददा॥

 

  • पूजन में जरूरी सामग्री-

नारियल का भोग लगाया जाता है|

  • पूजा का फल –

मनुष्य के पास कोई  संताप नहीं आता है।

 

Mata Siddhidatri Mantra- माँ सिद्धिदात्री का मंत्र

siddhidatri mata

सिद्धगन्धर्वयक्षाघैरसुरैरमरैरपि।

सेव्यमाना सदा भूयात् सिद्धिदा सिद्धिदायिनी॥

 

  • पूजन के लिए जरूरी सामग्री-

धान का लावा अर्पित किया जाता है|

 

  • पूजा का फल –

सिद्धियां प्राप्त करने में विशेष फलदायी।

 

 उम्मीद है आपको नवदुर्गा मंत्र की ये पोस्ट पसंद आई होगी| एक बार लाइक और शेयर जरुर करे|

 

 

 

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *